लखनऊ में कुत्तों का आतंक बढ़ने से एक बच्चे ने गवाई अपनी जान ,जानिए पूरी खबर

0
3

लखनऊ के ठाकुरगंज इलाके में बुधवार को घर के बाहर खेल रहे भाई-बहन पर 20-22 कुत्तों के झुंड ने हमला कर दिया। दोनों अपनी जान बचाने के लिए भागे तो कुत्ते और हमलावर हो गए। कुत्तों ने बच्चे को इस कदर नोचा कि उसकी मौत हो गई। जबकि उसकी बहन घायल है। उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। इस घटना से लोगों में आक्रोश है। इस घटना के लिए लोग नगर निगम को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। परिवारीजनों और आसपास के लोगों ने ठाकुरगंज थाने का घेराव किया है। सभी निगम के अफसरों को मौके पर बुलाने की मांग पर अड़े हैं।

घर के बाहर खेल रहे थे दोनों

 

दरअसल, पुराने लखनऊ में कुत्तों का आतंक है। ठाकुरगंज के मुसाहिबगंज के रहने वाले शबाब हैदर का 8 वर्षीय बेटा मोहम्मद हैदर और बेटी जन्नत फातिमा बुधवार की शाम घर के बाहर खेल रही थी। तभी कुत्तों के झुंड ने उन पर हमला बोल दिया। कुत्तों के अचानक हुए हमलों से मासूम दहशत में आकर जमीन पर गिर गए। इसके बाद कुत्तों ने दोनों को बुरी तरह नोंचा।

 

रोने-चीखने की आवाज सुनकर मोहल्ले वाले दौड़े और कुत्तों को भगाया। इसके बाद मासूम को अस्पताल लेकर गए। लेकिन मोहम्मद हैदर की मौत हो गई। जबकि जन्नत की हालत गंभीर है। उसे मेडिकल कॉलेज के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है।

 

नगर निगम की लापरवाही आई सामने

स्थानीय लोगों ने बताया कि नगर निगम से कई बार कुत्तों को लेकर शिकायत की गई है। लेकिन, टीम आती है और चली जाती है। कुत्तों को पकड़ नहीं पाती है। कई बार घटनाएं हुईं हैं, कई लोग इन कुत्तों का शिकार बन चुके हैं। नगर निगम की टीम सिर्फ खानापूर्ति करती है। स्थानीय नागरिकों ने बताया कि नगर निगम के जिम्मेदार हाथ पर हाथ धरे बैठे रहते हैं। नागरिकों में रोष है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here